Home > Posts tagged "under privileged"

शेवा ज्योति ने एक अर्थपूर्ण बचपन पाया

पुष्पलता एक ऐसी असम्भव परिस्थिति में फँस गई थी वह एक विधवा थी उसके दो बच्चे थे। वह पूरे दिन घरों में नौकरानी का काम करती थी और उसे अवसर ही नहीं मिलता था कि उस सब से निबट...